चंदेलकालीन तालाबों का गहरीकरण करना जरूरी : मंत्री सुश्री ठाकुर



चंदेलकालीन तालाबों का गहरीकरण करना जरूरी : मंत्री सुश्री ठाकुर


छतरपुर में स्वच्छता संबंधी कार्यों को सराहा
 


भोपाल : रविवार, फरवरी 21, 2021, 19:36 IST

पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कहा कि चंदेलकालीन तालाबों की उपयोगिता एवं सार्थकता को सिद्ध करने के लिए उनका गहरीकरण करना जरूरी है। इसके साथ ही स्वच्छता एवं सुंदरता भी बनाए रखना होगी। सुश्री ठाकुर ने चिंता जताते हुए कहा कि जिस तेजी से वर्तमान में जल स्तर नीचे जा रहा है उसे रोकने के लिए हमें अनेक जल-संरचनाएँ तैयार करना जरूरी है और पुरानी जल-संरचनाओं का जीर्णोद्धार भी करना होगा। सामुदायिक उद्देश्य के इस कल्याणकारी कार्य में जन-समुदाय को भी आगे आना होगा।

पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने यह बात छतरपुर जिले में जन-सहयोग से किये जा रहे स्वच्छता, साफ-सफाई अभियान एवं सौंदर्यीकरण कार्यों के निरीक्षण के दौरान कही। उन्होंने कहा कि छतरपुरवासियों द्वारा स्वच्छता और सौंदर्यीकरण के लिये किये जा रहे प्रयासों को देखकर मन प्रसन्न हो उठा है। उन्होंने कहा कि राम-जानकी कुण्ड के समक्ष खड़े होकर मैं दिल से प्रार्थना करती हूँ कि छतरपुर भी इंदौर की तर्ज पर स्वच्छता में अग्रणी हो।

मंत्री सुश्री ठाकुर ने कहा कि भावी पीढ़ी को समुचित रूप से जल उपलब्ध हो सके। इसके लिए पौधे लगाने के साथ उनकी पूर्ण सुरक्षा भी जरूरी है, जिससे पौधे वृक्ष बनकर शुद्ध पर्यावरण बनाए रखने के साथ-साथ जल संवर्धन में भी उपयोगी बनें। 

मंत्री सुश्री ठाकुर ने कहा कि यह प्रसन्नता की बात है कि कलेक्टर छतरपुर श्री शीलेन्द्र सिंह जिले में सामुदायिक कल्याण और सतत नवाचार कर रहे हैं। उन्होंने कलेक्टर से छतरपुर स्थित बागेश्वर धाम के सौंदर्यीकरण के लिए महती कार्य-योजना बनाने की बात कही। स्वच्छता के क्षेत्र में सीएमओ नगर पालिका छतरपुर के समर्पित उत्तरदायित्व की सराहना की। इस अवसर पर समाजसेवी, गणमान्य नागरिक और बड़ी संख्या में स्थानीय नागरिक मौजूद थे।


अनुराग उइके 



Source link

Share and Enjoy !

0Shares
0 0
Close