दिन में गर्मी रात में सर्दी ने बिगाड़ी सेहत, लोग वायरल की चपेट में

इंदौर,  रात में सर्द हवा और ठिठुरन…फिर दिन में चिलचिलाती धूप और गर्मी…। शाम होते ही फिर ठंडी हवा। एक दिन तापमान 22-23 डिग्री सेल्सियस तो अगले ही दिन तीन-चार डिग्री के उछाल से 28 डिग्री तक पहुंच जाता है। मौसम का यह अजीब मिलाजुला रूप सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहा है। लोग ऐसे वायरल की चपेट में आ रहे हैं जो एक-दो दिन के बजाय हफ्तों में जैसे-तैसे ठीक हो पा रहा है। डॉक्टर के पास मरीजों की भीड़ लग रही है। वो भी इस अजीब वायरल को समझ नहीं पा रहे हैं।

सर्दी, खांसी, बुखार, बदन दर्द , सिर दर्द और कई दिनों तक शरीर में कमजोरी। इन दिनों लोग ऐसे ही लक्षणों वाले वायरल की चपेट में आ रहे हैं। दवाई लेने के बाद हफ्तेभर तक ठीक रहते हैं और फिर हल्का बुखार शुरू हो जाता है। सबसे ज्यादा परेशानी सर्दी खांसी में है जो लंबे समय तक ठीक नहीं हो पा रही है। इसकी चपेट में बच्चों से लेकर बुजुर्ग तक सभी हैं। डॉक्टर भी इस बात को मान रहे हैं कि इन दिनों शहर में ऐसा फ्लू चल रहा है जो न तो बहुत ज्यादा खतरनाक है न बहुत साधारण है। हर अस्पताल और प्राइवेट क्लिनिक में मरीजों की भरमार है।

सामान्य से दो डिग्री उछला पारा

मौसम में इन दिनों लगातार बदलाव हो रहा है। सोमवार को दिन का तापमान सामान्य से दो डिग्री ज्यादा 29.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। ऐसे ही रात का पारा सामान्य से तीन डिग्री ज्यादा 12.5 डिग्री दर्ज हुआ।

लक्षणों के आधार पर कर रहे इलाज

इन दिनों बच्चे-बड़े सभी सर्दी खांसी और बुखार से पीड़ित हैं। लक्षणों के आधार पर डॉक्टर इलाज कर रहे हैं। यह एक तरह का फ्लू है जो जल्दी ठीक नहीं हो रहा है। यह बहुत ज्यादा खतरनाक नहीं है लेकिन लगातार बीमार रहने से शरीर कमजोर हो रहा है। – डॉ.हेमंत द्विवेदी, शिशु रोग विशेषज्ञ

सर्द हवा में घूमने से बचें

जब भी तापमान में लगातार उतार-चढ़ाव होता है तो वातावरण में मच्छर बढ़ जाते हैं। इसके कारण बीमारियां बढ़ती हैं जबकि तेज ठंड और तेज गर्मी में बीमारियों का प्रतिशत कम हो जाता है। इन दिनों कम रोग प्रतिरोधक क्षमता, शुगर व फेफड़ों की बीमारी के मरीज, धूम्रपान करने वाले वायरल की चपेट में आ रहे हैं। लोगों को देर रात सर्द हवा में घूमने से बचना चाहिए। – डॉ.वीपी पांडे, प्रोफेसर मेडिसिन, एमवायएच

इन बातों का रखें ध्यान

-बच्चे, बुजुर्ग और कम रोग प्रतिरोधक क्षमता वाले लोग अत्यधिक सर्द हवा में न घूमें

– स्वास्थ्यवर्धक भोजन लें

– ठंडा खाने से परहेज करें

– सर्दी खांसी को हल्के में न लें

– बार-बार अलग-अलग मौसम में बाहर न निकलें

naidunia

Close