शरीर और दिमाग पर दिखने लगे ये लक्षण तो बंद कर दें मास्टरबेशन

मास्टरबेशन यानी कि हस्तमैथुन से कई तरह के मिथक जुड़े हुए हैं। फिर भी तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने इसे एक सामान्य मानवीय व्यवहार माना है, लेकिन हर चीज की एक सीमा होती है। इस सीमा से आगे बढ़ने पर उसके दुष्प्रभाव सामने आने लगते हैं। मास्टरबेशन भी तब तक ही सही है जब तक कि यह आपके लिए एक लत न बन जाए। क्योंकि ऐसा होने के बाद यह आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य को प्रभावित करना शुरू कर देता है। आझ हम आपको कुछ ऐसे लक्षणों के बारे में बताने वाले हैं जो यह दर्शाते हैं कि आप मास्टरबेशन एडिक्ट हो चुके हैं और अब आपको यह बंद कर देना चाहिए।

1. आप खुद को नुकसान पहुंचाने लगे हों – कुछ लोगों को इस तरह से इसकी लत पड़ जाती है कि वह अपने ही अंग को नुकसान पहुंचाना शुरू कर देते हैं। ऐसे में स्किन रैशेज के साथ साथ पायरोनी बीमारी होने की भी संभावना होती है जो कि एक गंभीर समस्या है।

2. आपके जरूरी काम प्रभावित हो रहे हों – अगर आप इसकी वजह से अपनी क्लास छोड़ देते हों या फिर अपने जरूरी काम को टाल दे रहे हों तो यह संकेत है कि आप मास्टरबेशन एडिक्ट हो चुके हैं। ऐसे में आपको इस पर नियंत्रण करना बेहद जरूरी है। मास्टरबेशन तब तक ही ठीक है जब तक कि यह आपके काम को या फिर आपकी पढ़ाई को प्रभावित न करे।

3. सोच में हावी – अगर आप ऐसी अवस्था में आ गए हैं जब आप दिनभर मास्टरबेशन के बारे में ही सोच रहे हों तो समझ लीजिए कि मामला गंभीर है। मास्टरबेशन को इस गंभीर स्तर न पहुंचने दें।

4. रोकने में विफल हो रहे हों – किसी भी चीज को एडिक्शन या लत या फिर नशा तभी कहा जाता है जब आप यह जानते हों कि यह आपके स्वास्थ्य के लिए बुरा है और फिर भी आप उससे दूर न जा पा रहे हों। अगर चाहकर भी आपको मास्टरबेशन से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है तो जरूरी है कि संभल जाएं और किसी एक्सपर्ट से सलाह लें।

Close