सफेद मक्खन है बेहतर, जानें क्या है कारण

वाइट बटर यानी सफेद मक्खन आजकल लोगों की थाली में कम ही नज़र आता है. इसकी जगह लोग यलो बटर (पीला मक्खन) उपयोग करते हैं, जो कि नमक से भरपूर होता है. सेहत के नज़रिए से देखा जाए तो  सफेद मक्खन इस पीले मक्खन से कई गुना फायदेमंद होता है. आइए आपको बताते हैं असके फायदे

*वाइट बटर में लेसिटथिन नामक यौगिक पाया जाता है जो मेटाबोलिज्म रेट को बढ़ा देता है और फैट बर्न करने की प्रक्रिया में मदद करता है. इस बटर को खाने से आपका पेट भी जल्दी भर जाता है जिससे बार बार भूख नहीं लगती है. इस तरह यह वजन कम करने में मदद करती है.

*वाइट बटर में कैल्शियम, फॉस्फोरस, विटामिन ए और विटामिन डी की मात्रा काफी ज्यादा होती है जो शरीर की इम्युनिटी पॉवर बढ़ाने में बहुत मदद करते हैं.

* इसमें विटामिन ई और सेलेनियम काफी प्रचुर मात्रा में पाया जाता है और ये दोनों चीजें स्किन को स्वस्थ रखने में बहुत मदद करती हैं. इस बटर को खाने से कुछ ही दिनों में आपकी स्किन ग्लो करने लगती है.
*कई घरों में अभी भी बीमार होने पर दाल-खिचड़ी में मक्खन डालकर दिया जाता है. आपको बता दें कि वाइट बटर में एंटी फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो इम्युनिटी को बेहतर करता है और आपको कई तरह के इन्फेक्शन से बचाता है.

About healthfortnight

Close