Health Tips Cooked Carrots Can Trigger Your Allergic Reaction Boiled Carrot Benefits


Health Tips: गाजर आपकी सेहत के लिए फायदों से भरपूर है. यह आपकी त्‍वचा से लेकर आपके समस्‍त स्‍वास्‍थ्‍य को बनाए रखने के लिए आपके शरीर को जरूरी पोषक तत्‍व देती है. लेकिन अगर इस बीच आपको कहा जाए कि गाजर एलर्जी की प्रतिक्रिया को ट्रिगर कर सकता है, तो? शायद आप यकीन न करें, लेकिन हाल में हुए एक अध्‍ययन में पाया गया कि कच्ची गाजर ही नहीं पकाई हुई गाजर भी एलर्जी की प्रतिक्रिया को ट्रिगर करने में सक्षम है. आइये विस्तार से जानते हैं इसके बारे में.

– क्‍या कहती है रिसर्च?

हाल में हुआ यह अध्‍ययन यूनिवर्सिटी ऑफ बेयरथ के एक शोध दल द्वारा किया गया था. इस अध्‍ययन में शोधकर्ताओं का मानना है कि गाजर के एलर्जेन, Dau c 1, एक ऐसी संरचना को मानता है, जो अत्यधिक गर्म होने पर एलर्जी से पीड़ित लोगों के लिए हानिरहित है. हालांकि, जैसे ही तापमान गिरता है, यह काफी हद तक अपनी प्राकृतिक संरचना को वापस पा लेता है. देखा जाए, तो लाल गाजर हो या काली गाजर आपकी सेहत के लिए कई तरीकों से फायदेमंद है.

शोधकर्ता ‘मॉलेक्यूलर न्यूट्रिशन एंड फ़ूड रिसर्च’ पत्रिका में मौजूद एक अध्ययन के मुताबिक़ जो लोग गाजर एलर्जेन के प्रति संवेदनशील होते हैं, उन्हें आमतौर पर गाजर खाने से बचना चाहिए. गाजर को गर्म करने से प्रोटीन संरचना नष्ट होती है और एलर्जी की प्रतिक्रिया पैदा हो सकती है.

अध्ययन के पहले लेखक और पीएचडी छात्र थेसा जैकब एम.एससी के अनुसार, एलर्जी की प्रतिक्रिया विकसित करने वाले रोगियों का जोखिम न केवल ताजी पकी हुई गाजर या डिब्बाबंद गाजर खाने से पैदा होता है बल्कि गाजर के अर्क को भोजन में मिलाने पर भी पैदा हो सकता है.

– अध्‍ययन के परिणाम

अध्‍ययन के परिणाम तक पहुंचने के लिए किए गए परीक्षणों ने स्पष्ट रूप से दिखाया कि गाजर एलर्जेन की संरचनात्मक स्थिरता अकेले तापमान पर निर्भर नहीं करती है. इसमें पीएच वैल्‍यू द्वारा व्यक्त की गई अम्‍लता या एसिडिटी भी महत्वपूर्ण है. विशेष रूप से पीएच वैल्‍यू 3 है, जो आम तौर पर भोजन के बाद पेट में प्रबल होता है.

अम्लता के इस स्तर पर और सामान्य कमरे के तापमान पर, कम से कम कुछ एपिटोप्स पिछले हीटिंग के बावजूद मौजूद रह सकते हैं. एपिटोप्स वे आणविक उपग्रह हैं, जिनके द्वारा एलर्जी पीड़ितों की प्रतिरक्षा प्रणाली संबंधित एलर्जी और उसकी प्रतिक्रिया होती है.

इस प्रकार यह शोध सुझाव देता है कि यदि आप गाजर एलर्जेन के प्रति संवेदनशील होते हैं, तो आपको आमतौर पर गाजर खाने से बचना चाहिए. यदि आप ऐसा सोचते हैं कि पकाई हुई गाजर खाने से आपको एलर्जी की प्रतिकिया नहीं होगी, तो आप गलत हैं.

Chanakya Niti: धनवान बनना है तो भूलकर भी न करें ये काम, जानिए आज की चाणक्य नीति



Source link

Share and Enjoy !

0Shares
0 0
Close