Health Tips Do You Love Fried Food Then Use Canola Oil In Your Kitchen


Health Tips: स्‍वस्‍थ्‍य शरीर के लिए आहार में वसा या चर्बी बहुत ही महत्वपूर्ण होता है. वसा या चर्बी और पोषक तत्वों की सही मात्रा न मिलने से हमारा शरीर सही तरीके से काम नहीं कर सकता है. कैनोला तेल का उपयोग खाना पकाने में किया जाता है, हालांकि बाजार में आए दिन तरह-तरह के तेल आते रहते हैं. इनके विज्ञापन देखकर हर कोई नए तेलों की ओर आकर्षित हो जाता है, लेकिन लोग यह जानने से चूक जाते हैं कि क्या वाकई यह तेल स्वास्थ्य के लिए लाभकारी हैं या नहीं. दरअसल, किसी भी नए तेल को खरीदने से पहले उसके गुण-दोष जान लेना जरूरी है. इसमें फैट बहुत ही कम मात्रा में होता है और कम फैट में यह उच्च होता है, जिसमें ओमेगा-3 फैटी एसिड की अच्‍छी मात्रा होती है. जो स्वास्थ्य के लिए कई मायनों में फायदेमंद होता है. इस तेल के उत्‍पादक इसे दुनिया का सबसे अच्‍छा खाना पकाने वाला तेल बताते हैं. कैनोला ऑयल के फायदे-

क्या होता है कनोला तेल ?

कैनोला तेल, कैनोला पेड़ के बीज से निकाला जाता है. यह ब्रैसिका परिवार समेत पत्तागोभी, फूलगोभी और ब्रॉक्ली का अंश है. यह तेल कैनोला पेड़ के बीज को मसलकर निकाला जाता है. जो बाद में शुद्ध और परिवर्तित होकर बोतल में भरकर रखा जाता है. इसका रंग पीला सुनहरा होता है, और स्वाद में मध्यस्थ और गंधहीन होता है. यह तेल तेज आंच को सहन करने वाला होता है, जिसे 242 डिग्री सेल्सियस तक गर्म किया जा सकता है.

कनोला तेल के स्वास्थ्य लाभ-

बालों का स्वास्थ्य

कैनोला तेल में मौजूद वसा आपके बालों को स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है. इसके अलावा, तेल में मौजूद विटामिन-ई आपके बालों को बढ़ाने के साथ ही इन्हें झड़ने से भी रोकता है.

नियंत्रण में रखे ब्लड शुगर

एक शोध के अनुसार, कैनोला तेल लो-ग्लाइसेमिक आहार के लिए अच्छा संकेत है. मोनोअनसैचूरेटिड फैटी एसिड की मात्रा ज़्यादा होने के कारण यह टाइप-2 डायबटीज वालों की ब्लड शुगर को नियंत्रण में रखता है.

अच्छी चिकनाई का साधन

कैनोला तेल ख़ासतौर से दो तरह के पॉलिअनसैचूरेटिड फैट से भरा है, ओमेगा-3 और ओमेगा-6… यह दो ऐसे फैट है, जो शरीर में खुद से पैदा न होकर कई शारीरिक कार्यों को करने में मदद करते हैं. साथ ही दिल की बीमारियों को भी दूर रखते हैं.

यादाश्त ठीक रखने में

कैनोला ऑयल का सेवन करने से सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि इस ऑयल में कुछ ऐसे तत्व पाये जाते हैं जो मस्तिष्क को स्वस्थ रखते हैं और उम्र बढ़ने के साथ यादाश्त कमजोर होने की समस्या को भी दूर करते हैं.

सूजन

कैनोला तेल में मौजूद विटामिन-ई शरीर में बतौर एंटी-इंफ्लेमेटरी काम करता है. ऐसे में कहा जा सकता है कि इस तेल की मदद से चोट के कारण होने वाली सूजन और दर्द को कम करने के लिए तेल का एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण मदद करता है.

हृदय को स्वस्थ रखने में

कैनोला ऑयल हृदय को स्वस्थ रखने के लिए अच्छा माना जाता है. इस ऑयल में कम मात्रा में संतृप्त वसा होता है जो हृदय को स्वस्थ रखता है. इसके अलावा इसमें फैटी एसिड और स्टीरॉल मौजूद होता है जो हृदय को स्वस्थ रखने में मदद करता है. इसमें कोलेक्ट्राल नहीं होता है और कैनोला ऑयल में पाये जाने वाला फाइटोस्टीरॉल भोजन से कोलेस्ट्रॉल को अवशोषित करने और इसका निर्माण करने से रोकता है, जिससे हृदय रोग नहीं होते हैं.

कैंसर

कैनोला तेल का सेवन कैंसर जैसी प्राणघातक बीमारी से बचाने में मदद कर सकता है. दरअसल, यह ट्यूमर की मात्रा को कम करता है और कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है. एक शोध के मुताबिक, कैनोला तेल स्तन कैंसर से बचाव कर सकता है. साथ ही पेट के ट्यूमर में कीमो प्रिवेंटिव प्रभाव प्रदर्शित कर सकता है.

खत्म करता है बैले फैट

खोज से यह भी पता चला है कि कैनोला तेल को दो हफ्ते तक रोज अपने खाने में शामिल करने से पेट का मांस 1.6 प्रतिशत कम होता है.

विटामिन से भरा है

इसमें चिकनाई का समाधान करने के कई कीमती स्रोत हैं, जो कि हैं विटामिन-के और विटामिन-ई. विटामिन-ई, अच्छी त्वचा और प्रतिरक्षा प्रणाली के सही ढंग से काम करने के लिए जरूरी होता है. वहीं, विटामिन-के खून को थक्का बनाने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. यह तेल शरीर के लिए एंटीऑक्सीडेंट की तरह भी काम करता है.

कोलेस्टेरॉल से लड़ने के योग्य

इसमें सैचूरेटिड फैट कम और मोनोअनसैचूरेटिड फैट ज़्यादा होता है. यह दोनों ही शरीर में एक दूसरे के विरुद्ध काम करते हैं. मतलब सैचूरेटिड फैट ख़राब कोलेस्टरॉल (एल. डी. एल.) के लेवल को बढ़ाता है. वहीं मोनोअनसैचूरेटिड फैटी एसिड इसके विरोध में कार्य करता है. साथ ही यह शरीर के हृदय संबंधी रोगों को भी दूर रखता है. इसमें ट्रांस फैट की मात्रा काफी कम है (300 एम. जी. कोलेस्टेरॉल प्रति दिन से भी कम), जो रोज एक स्वस्थ आहार को लेने के लिए बहुत जरूरी है.

एनर्जी

कैनोला तेल का सेवन आपको ऊर्जावान बनाए रखने में भी मदद कर सकता है. दरअसल, कैनोला तेल में वसा की अच्छी मात्रा पाई जाती है और लिपिड यानी फैट आपके शरीर में पहुंचकर ऊर्जा देने का काम करता है.

त्वचा स्वास्थ्य

कैनोला तेल आपके त्वचा स्वास्थ्य के लिए भी अच्छा माना जाता है. इसमें मौजूद विटामिन-ई त्वचा को ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस के प्रतिकूल प्रभाव से बचाता है. जैसे फोटो एजिंग (परा बैंगनी किरणों की वजह से समय से पहले चेहरे पर झुर्रियां), त्वचा संबंधी रोग (कैंसर) शामिल हैं. इसके साथ ही सूर्य की हानिकारक किरणों और पुराने त्वचा विकारों के रोकथाम में भी मदद कर सकता है.

Chanakya Niti: धनवान बनना है तो चाणक्य की इन बातों को जीवन में उतार लें, जानिए आज की चाणक्य नीति



Source link

Share and Enjoy !

0Shares
0 0
Close