India Trials Of Russian Sputnik-V Vaccine May Finish By March-May: Dr Reddy’s


Covid-19 vaccine: डॉ. रेड्डी लेबोरेटरीज ने बुधवार को वैक्सीन को लेकर बड़ी उम्मीद जताई है. उसने कहा है कि रूसी वैक्सीन का भारत में जारी मानव परीक्षण मार्च के अंत तक पूरा हो सकता है. हैदराबाद की फार्मा कंपनी के मुताबिक, तीसरे चरण का मानव परीक्षण पूरा होने का मामला डेटा की मान्यता और मंजूरी पर होगा. गौरतलब है कि भारत के औषधि महानियंत्रक (DCGI) से स्पुतनिक-V वैक्सीन के मानव परीक्षण करने की मंजूरी मिल चुकी है.

 भारत में परीक्षण मार्च के अंत तक पूरा होने की उम्मीद

कंपनी के सीईओ इरेज इसराइली ने बताया कि दूसरे चरण का मानव परीक्षण दिसंबर तक पूरा हो सकता है. उन्होंने कंपनी के दूसरी तिमाही के नतीजों की घोषणा करने के बाद पत्रकारों से कहा, “तीसरे चरण का परीक्षण, हमें कहीं न कहीं मार्च तक मुकम्मल करना चाहिए और तब डेटा संकलन करने की क्षमता और मंजूरी पर निर्भर करता है. ये मार्च के अंत या अप्रैल की शुरुआत या दोनों में से कोई एक एक हो सकता है. इसकी निर्भरता नतीजों पर होगी. ये दूसरे चरण का मिश्रण है यानी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर तीसरे चरण का मानव परीक्षण और भारत में तीसरे चरण का मानव परीक्षण.”

डॉ रेड्डी ने रूसी कोविड वैक्सीन के हवाले से जताया भरोसा

उन्होंने बताया कि दूसरे और तीसरे चरण के मानव परीक्षण में शामिल करने के लिए कंपनी को 100 और 1400 वॉलेंटियर की जरूरत होगी. पिछले महीने डॉ रेड्डी और रशियन डाइयरेक्ट इन्वेसमेंट फंड (RDIF) ने भारत में स्पुतनिक वैक्सीन का वितरण और परीक्षण करने के लिए साझेदारी का ऐलान किया था. साझेदारी हो जाने से भारत में नियामक मान्यता मिल जाने पर RDIF वैक्सीन का 100 मिलियन डोज डॉ रेड्डी को आपूर्ति करेगी. 11 अगस्त को स्पतुनिक वैक्सीन का रूस के स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से रजिस्ट्रेशन किया गया था. रजिस्ट्रेशन के बाद कोविड-19 के खिलाफ रूसी स्पुतनिक-V पहली मंजूरी प्राप्त वैक्सीन दुनिया में बन गई. वर्तमान में स्पुतनिक वैक्सीन के तीसरे चरण का मानव परीक्षण रूस में चल रहा है.

ये भी पढ़ें-

इन बॉलीवुड फिल्मों के जरिए पेरेंट्स जान सकते हैं अपने बच्चों की ‘मन की बात’

इन 5 खाद्य पदार्थों से बेहतर होगा पुरुषों का स्वास्थ्य, करें डाइट में शामिल



Source link

About healthfortnight

Share and Enjoy !

0Shares
0 0
Close