अगर आप भी घर के अंदर सुखाते है कपडे, तो आपकी सेहत को हो सकता है ख़तरा

    0
    192

    नई दिल्ली

    विशेषज्ञों के अनुसार घरों के अंदर कपडे सुखाने से नमी बढ़ जाती है जिससे मोल्ड्स के बढ़ने की आशंका बढ़ जाती है, जिस के कारण स्पोर्स (बीजाणु) बढ़ जाते है। यह स्पोर्स हमे दिखाई नहीं देते और एलर्जी और अस्थमा जैसी बीमारियां बढ़ाते है।

    बच्चों और बूढ़ो को इससे ज़्यादा खतरा है क्यूंकि उनका इम्यून सिस्टम कमज़ोर होता है।

    विशेषज्ञों ने इस मुद्दे के प्रति चिंता जताते हुए कहा कि कपड़ो को घर के बाहर या किसी हवादार कमरे में सुखाना चाहिए। इससे घर में मोल्ड्स विकसित नहीं होंगे।

    फीना केन्नी नाम की एक शोधकर्ता ने बताया कि घर के अंदर कपडे सुखाने से एस्पेर्गिल्लस फ्यूमिगेटस नाम की फंगस विकसित होती है जिससे फेफड़ो से जुडी बीमारियां बढ़ती है। वैसे तो यह पूरे साल बढ़ते है लेकिन यह बारिश के मौसम में ज़्यादा तेज़ी से बढ़ता है।

    अस्थमा के मरीज़ों को इसके कारण अटैक पड़ने की सम्भावना भी बढ़ जाती है।

    मोल्ड्स नमी वाली जगहों पर ज़्यादा पाए जाते है। यह आपके किचन और बाथरूम में भी हो सकते है। खिड़कियों को खुला रख कर या एग्जॉस्ट का इस्तेमाल कर इनका बढ़ना कम किया जा सकता है।

    पानी, विनेगर और साबुन का घोल बना कर सफाई करने से मोल्ड्स को हटाया जा सकता है। यह गर्भवती महिलाओं के लिए भी खतरा हो सकता है।

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0