काम-धंधा और बुनियादी सुविधाओं के साथ नगरों को दें भव्य स्वरूप

    0
    143
    काम-धंधा और बुनियादी सुविधाओं के साथ नगरों को दें भव्य स्वरूप

    [ad_1]


    काम-धंधा और बुनियादी सुविधाओं के साथ नगरों को दें भव्य स्वरूप – मुख्यमंत्री श्री चौहान


    देवास विकास के रोडमैप में 718 हेक्टेयर का औद्योगिक शहर विकसित होगा
    390 करोड़ की लागत का मिनी सुपर कोरिडोर बनेगा
     


    भोपाल : बुधवार, जनवरी 27, 2021, 17:45 IST

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने  बुधवार को नगर‍निगम देवास में पंचवर्षीय रोडमैप देवास विजन-2021-26 का प्रेजेंटेंशन देखा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का उद्देश्य नगरों को भव्य स्वरूप देना है किंतु इसके साथ-साथ काम-धंधा और बुनियादी सुविधाओं का ध्यान रखा जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बड़े शहरों की तर्ज पर जिलों में नगर परिषदों की कार्य योजना बनाकर छोटे शहरों का विकास किया जाये। इसी के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में योजनाबद्ध कार्य हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देवास में मां चामुंडा एवं तुलजा भवानी के मंदिरों के विकास में जो बेहतर होगा वह करेंगे।

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बैठक में देवास विकास योजना में 718 हेक्टेयर के नए औ़द्योगिक क्षेत्र के विकास तथा 390 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले 5.6 किलोमीटर लंबे मिनी सुपर कोरिडोर को मंजूरी दी। मिनी कॉरिडोर उज्जैन रोड को टाटा एक्सपोर्ट इंदौर रोड तक जोड़ेगा। कॉरिडोर 45 मीटर चौड़ा व 6 लेन का होगा। इसके दोनों ओर 150 मीटर क्षेत्र को विकसित करते हुए पूर्व दिशा में अतिरिक्त 150 मीटर चौड़ी आवासीय पट्टी विकसित की जाएगी।

    65 करोड़ 90 लाख रुपए के प्रोजेक्ट स्वीकृत

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने देवास विकास के लिए 4 प्रोजेक्ट की स्वीकृति दी। इनमें एमआर-1 से मिनी सुपर कॉरिडोर को जोड़ने वाला फ्लाय ओवर, कैला देवी चौराहे से मिनी सुपर कॉरिडोर को जोड़ने वाला फ्लाई ओवर तथा मिसिंग लिंक को जोड़ने वाले शेष कार्य शामिल हैं।

    कलेक्टर श्री चंद्रमौली शुक्ला ने बताया कि मध्यप्रदेश औद्योगिक विकास निगम के सहयोग से नए औद्योगिक क्षेत्र का विकास किया जाएगा। इस नए औद्योगिक विकास में 400 छोटी-बड़ी कंपनी आएगी, जिसमें 20 हजार व्यक्तियों को पूर्णकालिक रोजगार मिलेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने पूरी योजना को स्वीकृति प्रदान करते हुए कहा कि देवास निवेश के लिए आदर्श स्थान है।

    प्रेजेंटेशन में एक जिला एक उत्पाद के तहत सिरसौदा पोटेटो क्लस्टर विकसित करने की योजना प्रस्तुत की गई। इसके तहत 4 लाख 95 हजार 600 वर्ग मीटर में 62 आलू उत्पादक किसानों को भूखंड अपनी इकाई स्थापित करने के लिए दिए जाएंगे। कलेक्टर ने बताया कि रेलवे लाइन के बाई तरफ का स्थान खाली पड़ा है, जिसको विकसित करने का प्लान बनाया गया है। इस क्षेत्र में 43 मीटर चौड़ा कॉरिडोर विकसित किया जाएगा।

    बैठक में औद्योगिक नीति संवर्धन एवं निवेश प्रोत्साहन मंत्री श्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, सांसद श्री महेंद्र सिंह सोलंकी, विधायक श्रीमती गायत्री राजे पवार, विधायक श्री मनोज चौधरी, विधायक श्री आशीष शर्मा, विधायक श्री पहाड़ सिंह कनोजे और जिला पंचायत अध्यक्ष श्री नरेंद्र सिंह राजपूत सहित अन्य जन-प्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित थे।


    हरिशंकर शर्मा

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0

    Close