किसानों को आर्थिक मदद देने में मध्यप्रदेश पूरे देश में अग्रणी

    0
    167
    किसानों को आर्थिक मदद देने में मध्यप्रदेश पूरे देश में अग्रणी

    [ad_1]


    किसानों को आर्थिक मदद देने में मध्यप्रदेश पूरे देश में अग्रणी


    किसान कल्याण कार्यक्रम में ग्वालियर से शामिल हुए उद्यानिकी राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार श्री कुशवाह 


    भोपाल : गुरूवार, दिसम्बर 3, 2020, 20:22 IST

    किसानों के कल्याण के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के दिल में विशेष ललक है। इसी का स्वाभाविक फायदा प्रदेश के किसानों को मिल रहा है। पूरे देश में मध्यप्रदेश एक ऐसा राज्य है जहाँ के हर किसान के खाते में प्रतिवर्ष 10 हजार रूपए की आर्थिक मदद पहुँचेगी। यह बात प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री भारत सिंह कुशवाह ने मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत आयोजित हुए कार्यक्रम में ग्वालियर में वी सी के माध्यम से भाग लेने आए किसानों को संबोधित करते हुए कही।

    नसरूल्लागंज में मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के तहत राज्य स्तरीय कार्यक्रम ऑनलाइन प्रसारण सभी जिला मुख्यालयों पर भी हुआ। ग्वालियर में कलेक्ट्रेट स्थित जन-सुनवाई कक्ष में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए जिले के किसानों ने भी इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्वालियर जिले की तानसेन तहसील के ग्राम मुख्तियारपुरा निवासी श्री वेदराम जाटव से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए चर्चा कर उनका हालचाल पूछा। श्री चौहान ने पूछा आपके पास कितनी जमीन है और जमीन सिंचित है या असिंचित । इस साल खरीफ में कौन सी फसल ली और रबी में कौन सी फसल लेने जा रहे हैं। एक परिवार के मुखिया की तरह मुख्यमंत्री को रूबरू पाकर वेदराम खुशी से गदगद हो गए और उन्होंने बेझिझक अपने जवाब भी दिए। वेदराम ने मुख्यमंत्री श्री चौहान को बताया कि मेरे पास दो बीघा सिंचित जमीन है। इस साल हमने खरीफ में अपनी खेती में लगभग 50 – 60 मन ज्वार पैदा की। रबी में गेहूँ की बोनी की है।

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जब वेदराम से सवाल किया कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि एवं मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना के बारे में आप जानते हैं ? ये सवाल सुनकर वेदराम भावुक हो गए और उन्होंने कहा मामाजी अगर ये योजनायें नहीं होती तो हमें कर्ज लेकर अपनी फसल के लिये खाद-बीज का इंतजाम करना पड़ता। उनका कहना था हमारे परिवार की बहुत थोड़ी जरूरतें हैं। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि एवं मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना से अब तक हमारे परिवार को 8 हजार रूपए की आर्थिक सहायता मिल चुकी है। दो हजार रूपए आज मिल रहे हैं।

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जब वेदराम से पूछा कि नए कृषि कानूनों के बारे में आपकी क्या राय है तो वे चहक कर बोले कि किसानों के हित में केन्द्र सरकार ने बहुत अच्छे कानून बनाए हैं। हम अपनी उपज मण्डी अथवा ऊँची कीमत पर कहीं अन्य जगह बेचने के लिये आजाद हैं। उनके दो बेटे हैं जो अभी पढ़ाई कर रहे हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उन्हें भरोसा दिलाया कि बच्चों की पढ़ाई के इंतजाम को लेकर बेफिक्र रहें, इसकी चिंता मध्यप्रदेश सरकार करेगी।


    महेश दुबे

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0