किसान और खेती देश की मजबूत अर्थव्यवस्था के हैं आधार : मंत्री श्री पटेल

    0
    84



    किसान और खेती देश की मजबूत अर्थव्यवस्था के हैं आधार : मंत्री श्री पटेल


    किसान खेती के साथ व्यापार,व्यवसाय व उद्योग भी करेंगे स्थापित 


    भोपाल : रविवार, फरवरी 28, 2021, 17:41 IST

    किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि किसान और खेती सशक्त राष्ट्र और सुदृढ़ अर्थव्यवस्था के आधार हैं। किसान मजबूत होंगे तो देश मजबूत होगा। मंत्री श्री पटेल  होशंगाबाद  के पवारखेड़ा में आयोजित मध्यप्रदेश ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी संघ के  प्रांतीय सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों की आय को दोगुना करने और खेती को लाभ का धंधा बनाने के लिए प्रदेश सरकार कृत संकल्पित हैं। सरकार के संकल्प को आप सभी के सहयोग से ही पूरा किया जा सकता है। 

    कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि किसानों के सर्वांगीण विकास के लिए केंद्र सरकार द्वारा  नए कृषि कानून  बनाए गए हैं। सरकार ने नीतियों और नियमों में परिवर्तन किए हैं। चना, मसूर एवं सरसों अब गेहूँ के साथ खरीदा जाएगा, जिसका सीधा लाभ लघु एवं सीमांत किसानों को मिलेगा। किसानों की आय को दोगुना करने और खेती किसानी को लाभ का धंधा बनाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार द्वारा निरंतर सभी आवश्यक उपाय किए जा रहे हैं।

    इस अवसर पर विधायक होशंगाबाद डॉ. सीतासरन शर्मा, विधायक सोहागपुर श्री विजयपाल सिंह, श्रीमती माया नारोलिया, जनपद अध्यक्ष श्रीमती संगीता सोलंकी एवं जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

    लागत में 50 प्रतिशत लाभ जोड़कर समर्थन मूल्य तय किया गया

    कृषि मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में किसानों की आय को दोगुना करने के लिए सरकार द्वारा निरंतर कार्य किए जा रहे हैं। स्वामीनाथन आयोग की  रिपोर्ट को लागू कर किसानों की फसल लागत में 50% लाभ जोड़कर समर्थन मूल्य घोषित किया गया है। इससे समर्थन मूल्य में निरंतर वृद्धि हो रही हैं। कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि समर्थन मूल्य पर चना, मसूर और सरसों की उपज प्रतिदिन 25 क्विंटल खरीदे जाने की सीमा को समाप्त कर दिया गया हैं। अब किसान अपनी उपार्जन क्षमता अनुसार अपनी चना, मसूर एवं सरसों की फसल बेच सकेंगे, जिससे किसानों के धन और समय दोनों की बचत होगी।

    गाँवों के विकास के द्वार खुलेंगे

    कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से अब किसानों को गाँव की आबादी की भूमि पर मालिकाना हक प्राप्त होगा। योजना को पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर हरदा एवं डिंडोरी जिले में लिया गया है। आने वाले समय में सभी जिलों में योजना का क्रियान्वयन किया जाएगा। योजना के तहत किसान अपनी भूमि पर बैंको से विभिन्न व्यवसायिक एवं व्यापारिक प्रयोजन के लिए किफायती ब्याज दर पर ऋण प्राप्त कर सकेंगे। साथी ही व्यापार, व्यवसाय  एवं उद्योग स्थापित कर अपनी आलू, प्याज, टमाटर आदि उत्पादों का प्र-संस्करण कर एमएसपी की जगह एमआरपी पर बेच सकेंगे। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी एवं मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में गाँवों के विकास के द्वार खुलेंगे। 

    नरवाई से बनेगा कोयला, पायलेट प्रोजेक्ट होशंगाबाद में

    कृषि मंत्री श्री पटेल ने कहा कि नरवाई  से कोयला बनाया जाएगा। इसका पायलेट प्रोजेक्ट होशंगाबाद में प्रारंभ होगा। नरवाई से कोयला बनने पर जहाँ एक ओर पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाया जा सकेगा, वहीं दूसरी ओर किसानों को आर्थिक लाभ प्राप्त होगा। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि नरवाई जलाने से रोकथाम हेतु विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। साथ ही फसल अवशेष प्रबंधन में उपयोगी कृषि उपकरणों के प्रयोग को बढ़ावा दिया जाएगा।

    कृषि में प्रदेश की  प्रतिष्ठा वैश्विक स्तर पर स्थापित

    विधायक होशंगाबाद डॉ. सीतासरण शर्मा ने कहा कि  केंद्र एवं प्रदेश सरकार की किसान हितैषी नीतियों से प्रदेश खेती किसानी में निरंतर विकास कर रहा है। प्रदेश ने कृषि  क्षेत्र में  देश ही नहीं बल्कि  विश्व स्तर पर भी प्रदेश की प्रतिष्ठा स्थापित की हैं।


    रोमित/अलूने



    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0