कोरोना एक्टिव केस में तेजी से सुधार

    0
    132
    कोरोना एक्टिव केस में तेजी से सुधार

    [ad_1]


    कोरोना एक्टिव केस में तेजी से सुधार


    मध्यप्रदेश 8 वें से 13 वें स्थान पर पहुंचा
    उपचार, सर्वे और एहतियात में लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी : मुख्यमंत्री श्री चौहान
     


    भोपाल : शनिवार, जून 20, 2020, 20:29 IST

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रदेश में कोरोना की स्थिति की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि पॉजीटिव रोगियों के उपचार में किसी भी किस्म की लापरवाही नहीं होना चाहिए। मध्यप्रदेश के लिए यह सुखद तथ्य है कि देश के बड़े प्रांतों में एक्टिव प्रकरण की दृष्टि से मध्यप्रदेश  की स्थिति बेहतर है।मध्यप्रदेश जो एक्टिव मामलों में 8 वें क्रम पर था,अब 13 वें क्रम पर है अर्थात  मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस तेजी से नियंत्रित हो रहा है। एक्टिव प्रकरणों में कमी परिलक्षित हुई है। इसके साथ ही मध्यप्रदेश का रिकवरी रेट भी 75.74 है जो निरंतर बढ़ रहा है, इसका मतलब राज्य में कोरोना रोगी अधिक तादाद में पूरी तरह स्वस्थ हो रहे हैं। देश में मध्यप्रदेश का रिकवरी रेट राजस्थान के 77.68 प्रतिशत के बाद सर्वाधिक है।

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि भोपाल, इंदौर नगरीय क्षेत्रों में सर्वे कार्य पूरा किया जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश के सभी जिलों में गत 24 घंटे में आए पॉजीटिव प्रकरणों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि फीवर क्लीनिक की भूमिका को सक्रिय रखा जाए। उन्होंने जावद नगर में विशेष ध्यान दिए जाने के निर्देश दिए हैं, जहाँ फीवर क्लीनिक में लिए गए सेम्पल में से 15 प्रतिशत रोगी पॉजीटिव पाए गए। इसी तरह देवास नगर में भी बैंक नोट प्रेस के स्टाफ में अधिक पॉजीटिव केस आने पर उन्होंने चिंता व्यक्त कर आवश्यक उपाय अमल में लाने के निर्देश दिए हैं। बैठक में जानकारी दी गई कि प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कुल 142 पॉजीटिव केस सामने आए हैं। इनमें एक्टिव केस की संख्या मात्र 4 है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने विभिन्न मेडिकल कॉलेजो में उपलब्ध जाँच और उपचार सुविधाओं की भी जानकारी प्राप्त की।

    अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री मोहम्मद सुलेमान ने बताया कि प्रदेश में खण्डवा मेडिकल कॉलेज में रिकवरी रेट सर्वाधिक 92.83 प्रतिशत है। इंदौर, जबलपुर, सागर, ग्वालियर, रीवा मेडिकल कॉलेजों में भी यह 70 से 85 प्रतिशत के मध्य है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में 6 हजार 523 टेस्ट किए गए हैं। इस समय प्रदेश में 882 फीवर क्लीनिक कार्य कर रही हैं। प्रदेश में संक्रमण की रफ्तार कम हुई है और डबलिंग रेट 46.9 दिवस है।

    होशंगाबाद ने अच्छा मैनेज किया

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने जिलेवार समीक्षा की। उन्होने होशंगाबाद जिले में कोरोना संक्रमण को रोकने के प्रयासों और रिकवरी रेट 82 प्रतिशत से अधिक होने पर प्रसन्नता व्यक्त की।

    बैठक में मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, पुलिस महानिदेशक श्री विवेक जौहरी, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री फैज अहमद किदवई उपस्थित थे। 


    अशोक मनवानी

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0