जानिए क्या है कार्डिएक अरेस्ट और इससे बचाव के तरीके

    0
    152

    मल्टीमीडिया डेस्क। अभिनेत्री श्रीदेवी का दुबई में शनिवार रात को कार्डिएक अरेस्ट से निधन हो गया। उनके निधन की खबर के बाद से ही बॉलीवुड ही नहीं बल्कि पूरे देश में शोक की लहर है। श्रीदेवी के आवास पर उन्हें श्रद्धाजलि देने वालों का तांता लगा हुआ है। इस दौरान साइलेंट कार्डिएक अरेस्ट की बात एक बार फिर चलने लगी है। कई लोगों को इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है। जानते हैं क्या होता है कार्डिएक अरेस्ट और कैसे होते हैं इसके लक्षण…

    साइलेंट हार्ट अटैक को साइलेंट मायोकार्डिअल इन्फ्रेक्शन (SMI) भी कहा जाता है। इस अवस्था में यदि किसी व्यक्ति को दिल का दौरा पड़ता है, तो उसके सीने में कोई दर्द नहीं होता है। इसलिए दिल का दौरा पड़ने के बारे में पता ही नहीं चलता है। दरअसल, ऐसा कई वजहों से होता है कि व्यक्ति को सीने में दर्द नहीं होता है। कई बार तंत्रिका या रीढ़ की हड्डी में समस्याओं के कारण दिमाग तक दर्द का संदेश नहीं पहुंचता है।

    वहीं, कुछ मामलों में साइकोलॉजिकल कारणों से सीने में दर्द का पता नहीं चलता है। इसके अलावा अधिक उम्र होने या डायबिटीज के रोगियों को भी ऑटोनॉमिक न्यूरोपैथी की वजह से सीने में दर्द महसूस नहीं होता है। मगर, कुछ ऐसे लक्षण हैं, जो पहले से ही महसूस किए जा सकते हैं।

    • गैस्ट्रिक समस्या और पेट की खराबी
    • बिना कारण सुस्ती और कमजोरी महसूस होना
    • थोड़ी सी भी मेहनत करने पर थकान होना
    • अचानक ठंड लगना और पसीना आना
    • लगातार तेजी से सांस का चलना

    साइलेंट हार्ट अटैक से बचाव के तरीके

    • भोजन में सलाद, सब्जियां अधिक शामिल करें
    • नियमित चलना, व्यायाम और योग करना
    • सिगरेट, शराब के सेवन से दूर रहना
    • खुश रहें और तनाव लेने से बचें
    • नियमित रूप से मेडिकल चेक कराएं

    naidunia

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0