बाजार में मर्दों के लिए भी आ सकती है गर्भ निरोधक गोली, जानिए ये रिसर्च

    0
    1057

    नई दिल्ली

    दरअसल, मर्दों के लिए ऐसी दवाई तैयार करने के लिए वैज्ञानिक लगातार प्रयास कर रहे हैं। वैज्ञानिकों का मानना है कि अंग प्रत्यारोपण कराने वालों को खतरे से बचाने के लिए दी जाने वाली 2 दवाओं से मर्दों के लिए गर्भ निरोधक गोली बनाई जा सकती हैं। ओसाका विश्वविद्यालय के एक संस्थान में वैज्ञानिक हारुहिको मियाता की अगुआई में इस पर खास रिसर्च की जा रही है।

    अभी तक की रिसर्च में वैज्ञानिकों ने पाया है कि अंग प्रत्यारोपण कराने में प्रयोग होने वाली ‘साक्लोस्पोरिन (CSA) और FK506 (टैक्रोलिमस)’ को प्रयोग कर मर्दो के लिए वो दवाएं बनाई जा सकती हैं, जिनसे मर्दों के स्पर्म में मौजूद गर्भ ठहराने वाले अवयवों को निष्क्रिय किया जा सकता है।

    दोनों की दवाओं में पेशेंट को किसी खतरे से बचाने के लिए कैल्सिनेयूरिन नामक एन्जाइम होता है। रिसर्च के दौरान चूहों पर किए गए अध्ययन में पाया गया कि कैल्सिनेयूरिन का एक रूप स्पर्म में भी पाया जाता है। पहचाने गए कैल्सिनेयूरिन के उस रूप में प्रोटीन का एक जोड़ा ‘PPP3CC और PPP3R2’ मौजूद था।

    कुछ चूहों का विकास कर उनको अनुवांशिक रूप से PPP3CC की उत्पत्ति करने में अक्षम बनाया गया, ऐसे चूहों को नॉकआउट पशु नाम दिया गया और पाया गया कि नॉकआउट चूहों से संपर्क करने पर चुहिया गर्भवती नहीं हुई। इसके बाद नॉकआउट चूहों के स्पर्म का प्रयोग इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (IVF) में किया गया।

    इसका परिणाम भी नकारात्मक ही मिला। वैज्ञानिकों को मिली ऐसी सफलता के बाद मर्दों के लिए गर्भ निरोधक गोली की संभावना बढ़ गई है और उम्मीद की जा रही है कि वैज्ञानिकों की ओर से पूरी तरह से हरी झंडी मिलने के बाद फार्मा कंपनियां मर्दों के लिए गर्भ निरोधक दवाएं बनाकर बजार में उतार सकती हैं।

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0