मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने महाकवि स्व. पं. माखनलाल चतुर्वेदी की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

    0
    132
    मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने महाकवि स्व. पं. माखनलाल चतुर्वेदी की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

    [ad_1]


    मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने महाकवि स्व. पं. माखनलाल चतुर्वेदी की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण


     


    भोपाल : बुधवार, जनवरी 27, 2021, 17:55 IST

    पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने आज महाकवि स्वर्गीय श्री माखनलाल चतुर्वेदी की जन्म स्थली माखन नगर, बाबई होशंगाबाद पहुँचकर स्व. श्री माखनलाल चतुर्वेदी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किए।

    इस अवसर पर मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने राष्ट्रनायक कवि श्री चतुर्वेदी को कोटि-कोटि प्रणाम करते हुए कहा कि दादा माखन लाल चतुर्वेदी की कृतियों ने क्रांतिकारियों के हृदय की ज्वाला को धरातल पर उतारने तथा भारत को परतंत्रता की बेड़ियों से मुक्ति दिलाने में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रभक्तों और कर्मयोगियों की कर्मभूमि माखननगर बाबई में राष्ट्रीय स्तर की स्वरचित वीर रस पर आधारित काव्य पठन-पाठन प्रतियोगिताएँ आयोजित की जानी चाहिए। यही दादा श्री चतुर्वेदी जी को सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने कहा कि आजादी के मायने बदले है। वर्तमान में हमें 21वीं शताब्दी के भारत के निर्माण के लिए देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की तरह हम सभी को भारत माता के सजग प्रहरी की भूमिका निभानी होगी। उन्होंने आमजन से आग्रह करते हुए कहा कि वे जनकल्याणकारी योजनाओं को घर- घर तक पहुंचने में सहयोग करें।

    इस अवसर पर विधायक होशंगाबाद श्री सीतासरन शर्मा, विधायक सोहागपुर श्री विजय पाल सिंह, श्रीमती माया नारोलिया, जनपद अध्यक्ष बाबई श्री ब्रज मीणा सहित अन्य जनप्रतिनिधि गण एवं अधिकारीगण उपस्थित थे।

    मंत्री सुश्री ठाकुर ने नन्हें धावक वरेन्यम शर्मा को किया सम्मानित

    मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने बाबई के नन्हें धावक वरेण्यम शर्मा को प्रशस्ति पत्र एवं मेडल भेंट कर सम्मानित किया। उल्लेखनीय है कि बाबई के 6 वर्षीय बालक वरेन्यम शर्मा ने दौड़ में इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स एवं एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में अपना नाम दर्ज कराया है। वरेन्यम ने 26 जनवरी गणतंत्र दिवस के अवसर पर अपनी जन्मभूमि बाबई को प्रणाम करते हुए शुक्रबाड़ा फार्म से दौड़ शुरू की जो जनपद कार्यालय के सामने जाकर समाप्त हुई।


    नीरज शर्मा

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0