मंत्री सुश्री ठाकुर ने किया वीरांगना नाट्य समारोह का शुभारंभ

    0
    134
    मंत्री सुश्री ठाकुर ने किया वीरांगना नाट्य समारोह का शुभारंभ

    [ad_1]


    मंत्री सुश्री ठाकुर ने किया वीरांगना नाट्य समारोह का शुभारंभ


    अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर शौर्य स्मारक पर आयोजन 


    भोपाल : सोमवार, मार्च 8, 2021, 22:05 IST

    संस्कृति, पर्यटन एवं आध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर महिलाओं का सम्मान करके विभाग धन्य हो गया। वीरांगना नाट्य समारोह में महिलाओं द्वारा उन पावन चरित्रों को समाज के सामने प्रदर्शित करने जा रहें है जो भारतीय इतिहास के स्वर्णिम पृष्ठों के निर्माता रहें है। सुश्री ठाकुर शौर्य स्मारक में वीरांगना नाट्य समारोह के शुभारंभ के दौरान दर्शकों को संबोधित कर रही थी। उन्होंने ‘शौर्या मेरी कहानी मेरी जुबानी’ पुस्तक का विमोचन किया। सुश्री ठाकुर ने प्रसिद्ध महिला रंगकर्मी, अभिनेत्री और नृत्यांगना को शॉल, श्रीफल व स्मृति चिन्ह भेंट कर सम्मानित भी किया। संस्कृति विभाग, स्वराज संस्थान संचालनालय और बहुद्देशीय सामाजिक संस्था के संयुक्त तत्वाधान में 8 से 19 मार्च तक नाट्य समारोह का आयोजन किया जा रहा है। नाट्य समारोह में मंचित किए जा रहे सभी नाटक महिला निर्देशकाओं द्वारा निर्देशित किए गए हैं। नाट्य समारोह में सभी दर्शकों का प्रवेश निःशुल्क रहेगा।

    सुश्री ठाकुर ने कहा कि विधा या माध्यम कोई भी हो राष्ट्रीयता की अलख जगाना आज के दौर की सबसे अनिवार्य आवश्यकता है। आजादी का 75वाँ वर्ष भारतीय स्वतंत्रता में शहीद हुए अमर वीर बलिदानों को याद करने का वर्ष है। आप सभी अपने घर की बैठकों में एक क्रांतिकारी, महापुरुष या वैज्ञानिक का चित्र अवश्य लगाएँ। हमारे असली हीरो वही हैं जिन्होंने स्वतंत्रता संग्राम के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर दिया। उन्होंने सभी से अपने इस्ट मित्रों सहित बड़ी संख्यां में इस नाट्य समारोह को देखने का आग्रह किया और कहा इस तरह के नाटक देखकर आप सभी प्रेरित होंगे और हमारे कलाकार भी उत्साहित होंगे।

    वीरांगना नाट्य समारोह का शुभारंभ सुश्री सुचित्रा हरमलकर इंदौर द्वारा भारत की महान नारी शक्ति पर आधारित नृत्य नाटिका ‘अनुकृति’ से किया गया। समारोह की दूसरी प्रस्तुति 9 मार्च को श्रुति बारीक द्वारा निर्देशित झांसी की रानी होगी। इसी तरह 10 मार्च को ज्योति दुबे द्वारा निर्देशित लमझना, 11 मार्च को बिशना चौहान द्वारा निर्देशित लाइफ ऑन फोन, 12 मार्च को सिंधु धौलपुरे द्वारा निर्देशित झलकारी, 13 मार्च को नीति श्रीवास्तव द्वारा निर्देशित पन्ना धाय, 14 मार्च को पूजा केवट द्वारा निर्देशित रानी चेन्नम्मा, 15 मार्च को वैभव श्रीवास्तव द्वारा निर्देशित रानी वेलुंचचियार, 16 मार्च को पलक पटवर्धन द्वारा निर्देशित वीरांगना अवंतीबाई लोधी, 17 मार्च को रीना सिन्हा द्वारा निर्देशित काबुलीवाला और 18 मार्च को देवांशी सिन्हा द्वारा निर्देशित बीवी कौर नाटक की प्रस्तुति होंगी। समारोह के अंतिम दिन 19 मार्च को खुशबू पांडे द्वारा निर्देशित नाटक ‘मुझे अमृता चाहिए’ से होगा।


    अनुराग उइके

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0