मध्‍यप्रदेश में इंटरव्‍यू के जरिए होगी डॉक्‍टरों की सीधी भर्ती

0
1018
भोपाल। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब महाराष्ट्र और गुजरात के सरकारी अस्पतालों में आयुष (आयुर्वेदिक, होम्योपैथिक और यूनानी) डॉक्टर इलाज कर सकते हैं, तो मप्र में क्यों नहीं। मुख्यमंत्री ने कहा कि मप्र में डॉक्टरों की कमी है, तो आयुष डॉक्टरों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (ग्रामीण सरकारी अस्पताल) में पदस्थ किया जाए, जिससे ग्रामीणों को समय पर इलाज मिल सके।

इस पर प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्रीमती गौरी सिंह ने कहा कि इस संबंध में जल्द ही आदेश जारी कर दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने आयुष औषधालयों को और उपयोगी बनाने तथा पं. खुशीलाल आयुर्वेदिक चिकित्सालय को आदर्श चिकित्सालय बनाने के निर्देश दिए।

Share and Enjoy !

0Shares
0 0