रावतपुरा धाम को तीर्थ पर्यटक सर्किट से जोड़ा जायेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान

    0
    140
    रावतपुरा धाम को तीर्थ पर्यटक सर्किट से जोड़ा जायेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान

    [ad_1]


    रावतपुरा धाम को तीर्थ पर्यटक सर्किट से जोड़ा जायेगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान


    ज्ञान, भक्ति एवं कर्म का संगम है रावतपुरा धाम 


    भोपाल : गुरूवार, मार्च 11, 2021, 19:22 IST

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि रावतपुरा धाम एक अदभुत पवित्र धार्मिक तीर्थ स्थल है। इसे तीर्थ पर्यटक सर्किट में जोड़ा जायेगा। यहाँ आने वाले श्रद्धालुओं के लिये सामुदायिक भवन की व्यवस्था की जाकर धाम में पेयजल की समस्या को भी दूर किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान गुरूवार को भिण्ड जिले के रावतपुरा धाम में 3 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित 85 फीट ऊँची आदिदेव शिव प्रतिमा के अनावरण समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

    कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री चौहान की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह चौहान, राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, खजुराहो सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री वी.डी. शर्मा, ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, नगरीय विकास राज्य मंत्री श्री ओपीएस भदौरिया, सांसद श्रीमती संध्या राय, सांसद श्री केपीएस यादव, सांसद श्री वीरेन्द्र खटीक, विधायक सर्वश्री वीरेन्द्र रघुवंशी, श्रीमती रक्षा सिरोनिया, श्री हरीशंकर खटीक,  मुकेश चौधरी, राधेलाल रावत, नरेन्द्र सिंह कुशवाह, श्री रावतपुरा सरकार लोक कल्याण ट्रस्ट के महाराज श्री रविशंकर जी सहित जन-प्रतिनिधि, नागरिक एवं बड़ी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित थे।

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मूर्ति अनावरण कार्यक्रम में शिवरात्रि पर्व की सभी को शुभकामनाएँ दी। उन्होंने कहा कि आज के पवित्र दिन आदिदेव शिव की प्रतिमा के अनावरण के दौरान विशाल स्वरूप में भगवान शिव के दर्शन करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि मानव के जीवन का अंतिम लक्ष्य ईश्वर को प्राप्त करना है। इसके लिए तीन मार्ग हैं, जिनमें ज्ञान मार्ग के माध्यम से वेद, पुराण उपनिषेद एवं गीता के माध्यम से ज्ञान अर्जित करना है। जबकि दूसरा मार्ग ईश्वर की भक्ति का और तीसरा कर्म मार्ग का है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कर्म मार्ग के रूप में ईश्वर ने मनुष्य को जिस रूप में कार्य करने का अवसर दिया है, उसे पूरी ईमानदारी एवं निष्ठा के साथ करें। उन्होंने कहा कि ज्ञान, भक्ति एवं कर्म के त्रिवेणी का संगम रावतपुरा धाम है।

    राज्यसभा सांसद श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि रावतपुरा धाम में आकर काफी सकुन मिला है। ऐसा लग रहा है कि यहाँ प्रभु के चरणों में उपस्थित हुए हैं। उन्होंने कहा कि रावतपुरा सरकार धार्मिक स्थलों का एक केन्द्र बन चुका है। भगवान शिव की 85 फीट ऊँची प्रतिमा के यहाँ आकर दर्शन करने का अवसर मिला है। श्री सिंधिया ने कहा कि इस भव्य एवं विशाल प्रतिमा को बनाने वाले कारीगरों एवं शिल्पियों का भी विशेष योगदान रहा है। श्री सिंधिया ने कहा कि रावतपुरा सरकार चिकित्सा, शिक्षा एवं समाज-सेवा के क्षेत्र में पूरे मध्यप्रदेश में महत्वपूर्ण उदाहारण प्रस्तुत कर रहा है।

    खजुराहो सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष श्री वी.डी. शर्मा ने कहा कि हम बड़े सौभाग्यशाली है कि रावतपुरा धाम में भगवान शिव की विशाल प्रतिमा के दर्शन करने का अवसर मिला है। उन्होंने कहा कि रावतपुरा सरकार मध्यप्रदेश ही नहीं, पूरे देश के अंदर विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर अनूठा उदाहारण प्रस्तुत कर रहा है। यहाँ आने से जो प्रेरणा मिलती है, वह अनुकरणीय है। उन्होंने कहा कि रावतपुरा धाम आकर चारों धामों के दर्शन करने जैसा अहसास होता है। रावतपुरा धाम धर्म, संस्कृति एवं संस्कार देने का एक बड़ा केन्द्र बन रहा है। 

    रावतपुरा धाम के गुरूदेव श्री रविशंकर जी ने बताया कि रावतपुरा धाम में स्थापित शिव प्रतिमा के समान ही 11 अन्य स्थानों पर भी वर्ष 2030 तक प्रतिमा स्थापित की जायेगी। उन्होंने कहा कि वे वर्ष 1991 में यहाँ आये थे। आज रावतपुरा धाम लाखों लोगों की आस्था एवं श्रद्धा का केन्द्र बन चुका है। उन्होंने कहा कि ग्वालियर एवं चंबल की तपोभूमि हमेशा संतों की भूमि रही है। रावतपुरा धाम द्वारा संचालित शिक्षण संस्थाओं के माध्यम से 30 हजार से अधिक छात्र शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं।  

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रावतपुरा धाम में किया पौध-रोपण

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रावतपुरा धाम में जन-प्रतिनिधियों के साथ पौध-रोपण कार्यक्रम में भाग लिया। मुख्यमंत्री ने आम का पौधा रोपा। इस अवसर पर उपस्थित जन-प्रतिनिधियों ने भी विभिन्न प्रजातियों के पौधे लगाये।

    मूर्ति शिल्पकारों का किया सम्मान

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आदिदेव शिव की 85 फीट ऊँची प्रतिमा बनाने वाले शिल्पकार श्री चन्दु सिंह एवं श्री शीर्षराम को सम्मानित किया। इस मौके पर अतिथियों को ट्रस्ट की ओर से स्मृति-चिन्ह भेंट किये गये।


    डीडी शाक्यवार

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0