विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2018: जानें तंबाकू के सेवन से कैंसर के आलावा कौन-कौन सी बीमारियां होती हैं

    0
    163

    वर्ल्ड नो तंबाकू डे (एंटी तंबाकू डे) 31 मई को पूरे विश्व में मनाया जाता है। इसे विश्व तंबाकू निषेध दिवस के नाम से भी जाना जाता है। लोगों को तंबाकू के लिए जागरूक करने के उद्देश्य से इस दिवस की शुरूआत की गई। तंबाकू एक प्रकार का नशा है, जिसकी लत हो जाने पर व्यक्ति इससे दूर नहीं रह पाता है।

    तंबाकू खाने से धीरे-धीरे व्यक्ति का शरीर खराब हो जाता है। साथ ही यह दिमाग पर भी बुरा असर डालता है।

    इतना ही नहीं कुछ लोगों की मौत की वजह तंबाकू के कारण होने वाली बीमारी बनती है।

    आज भी लोगों को तंबाकू के प्रति जागरूक करने के लिए कई तरह के अभियान चलाए जा रहे हैं।

    महिलाएं ज्यादा करती हैं सेवन

    आज के समय में पुरुषों से ज्यादा महिलाएं तंबाकू का सेवन कर रही हैं। अमेरिका में हुए एक रिसर्च में इस बात की पुष्टि हुई है कि अमेरिकी औरतों को पुरुषों की तुलना में ज्यादा लंग्स कैंसर पाए गए। यह रिसर्च राष्ट्रीय कैंसर संस्थान और अमेरिकन कैंसर सोसायटी की तरफ से की गई, जो न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित हुई थी।

    इसलिए हानिकारक है तंबाकू

    तंबाकू के नियमित सेवन से फेफड़ों के कैंसर होने का सबसे ज्यादा खतरा रहता है। ऐसा इसलिए क्योंकि तंबाकू में क्रोमियम, आर्सेनिक, बंजोपाइरींस, निकोटीन, नाइट्रोसामाइंस जैसे तत्व बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। बता दें कि यह सभी तत्व कैंसर पैदा करने वाले सेल्स को बढ़ावा देते हैं।

    तंबाकू के सेवन से होने वाली दिक्कतें

    • सांस लेन में दिक्कत
    • भूख कम लगना
    • थकान बनी रहना
    • सही से नींद न आना
    • तनाव रहना
    • गले से जुड़ी समस्या होना
    • लंबे समय तक खांसी होना
    • कभी-कभी खांसते समय खून आना

    ऐसे छोड़ सकते हैं नशा

    • सबसे पहले मन में ठान लें कि धूम्रपान छोड़ना है।
    • चिकित्सीय विधियों का सहारा ले सकते हैं।
    • नशामुक्ति केंद्रों की मदद ली जा सकती है।
    • नशा छोड़ने के लिए च्यूइंगम, स्प्रे या इनहेलर का भी सहारा ले सकते हैं।
    • आहार में एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर चीजों को शामिल करें।
    • तंबाकू छोड़ने के लिए ज्यादा से ज्यादा व्यस्त रहने की कोशिश करें।
    • haribhoomi

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0