सतना के नागौद व भोपाल की बरखेड़ी की घटनाएं दु:खद : मुख्यमंत्री श्री चौहान

    0
    120

    [ad_1]


    सतना के नागौद व भोपाल की बरखेड़ी की घटनाएं दु:खद : मुख्यमंत्री श्री चौहान


    पीड़ितों की हर संभव मदद करने व घायलों के इलाज की समुचित व्यवस्था के निर्देश
     


    भोपाल : सोमवार, नवम्बर 9, 2020, 16:14 IST

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने सतना जिले के नागौद में हुई सड़क दुर्घटना में कई अमूल्य जिंदगियों के असमय काल-कवलित होने की घटना को अत्याधिक पीड़ादाई बताया है। उन्होंने कहा कि भोपाल के ग्राम बरखेड़ी में मिट्टी धंसने से हुई चार बच्चों की मृत्यु का समाचार भी अत्यंत ही दु:खद व हृदय विदारक है। उन्होंने कहा कि मेरी संवेदनाएं पीड़ित परिवारों के साथ हैं। उक्त दोनों घटनाओं में पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद करने व घायलों के समुचित उपचार के लिए जिला प्रशासन को आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने ईश्वर से दिवंगत आत्माओं की शांति व परिजनों को यह वज्रपात सहन करने की शक्ति देने तथा घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की है।

    मृतकों के परिवारों को 4-4 लाख रूपये की आर्थिक सहायता की घोषणा

    मुख्यमंत्री श्री चौहान ने  सुखी सेवनिया थाना क्षेत्र के ग्राम बरखेड़ी अब्दुल्ला में मिट्टी खदान में दबने से 4 बच्चों की मृत्यु पर गहन दुख और शोक संवेदना व्यक्त करते हुए मृतक बच्चों के परिजनों को 4-4 लाख की सहायता राशि दिए जाने की घोषणा  की है।

     सोमवार की सुबह 9 बजे हुजूर तहसील के बरखेड़ी अब्दुल्ला गांव जो  सुखी सेवनिया थाने के अंतर्गत है के, 6 बच्चे अपने घर में लीपने के लिए मिट्टी लेने गांव के समीप नाले के पास गए थे। मिट्टी खोदते समय खदान की गहराई वाले क्षेत्र में जाने और ऊपर से मिट्टी गिर जाने के कारण, दब कर 4 बच्चों की मृत्यु हो गई। दो बच्चे घायल हुए हैं। घायल दोनों बच्चों को हमीदिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृत हुए बच्चों के परिजनों को तत्काल आरबीसी की धारा 6 चार के अंतर्गत 4-4 लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि स्वीकृत की गई है। मृतकों के नाम मनोज पिता श्री बने सिंह उम्र 12 साल, कविता पिता श्री श्यामलाल उम्र 9 साल, आशा पिता श्री कैलाश उम्र 7 साल, बल्ली भाई पिता श्री प्रभु लाल उम्र 12 साल है

    दुर्घटना में घायल विक्रम बंजारा पिता विनय सिंह उम्र 7 वर्ष और रोहित पिता कैलाश उम्र 7 वर्ष हमीदिया अस्पताल में इलाज चल रहा है। डॉक्टर्स ने दोनों की हालत खतरे से बाहर बताई हैं। घटना की सूचना मिलते ही कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया ने राहत एवं बचाव कार्य प्रारंभ कराया एवं हमीदिया अस्पताल पहुँचकर उन्होंने घायल बच्चों के नि:शुल्क उपचार के निर्देश दिए। 


    एस.के. भदौरिया/अरुण राठौर

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0