Health Tips If You Are Eating These Fruits Empty Stomach, You Are Doing It Wrong

    0
    130

    [ad_1]

    Health Tips: सुबह के भागदौड़ भरे समय में या तो लोग ब्रेकफास्ट स्किप कर देते हैं या फिर जल्दी-जल्दी में कोई भी फल खा लेते हैं क्योंकि फल सेहतमंद होने के साथ-साथ आपकी भूख को भी शांत करने में सहायक होते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि कुछ फल ऐसे भी होते हैं जिनको अगर खाली पेट खाया जाए तो यह आपकी सेहत को भारी नुकसान पहुँचा सकते हैं? हाँ, आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि सुबह खाली पेट कुछ फलों का सेवन आपकी सेहत के लिए घातक साबित हो सकता है, तो आइए हम आपको बताते हैं कि, कौन से ऐसे फल हैं जो आपको खाली पेट भूलकर भी नहीं खाने चाहिए.

    केला न खाएं

    केला सेहत के लिए लाभकारी होता है लेकिन सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से आप अपनी सेहत बिगाड़ सकती है. केले में मैग्‍नीशियम पाया जाता है, जो हार्ट के लिए खतरानाक हो सकता है और आप दिल संबंधी बामारियों के शिकार हो सकते हैं.

    अंगूर न खाएं

    अंगूर एक साइट्रस फ्रूट है, जिसमें एसिड पाया जाता है, इसलिए इसे खाली पेट खाने से पेट में जलन और गैस बनने के साथ हार्ट अटैक का खतरा भी बढ़ सकता है. इसके अलावा खाली पेट अंगूर का सेवन करने से गैस्ट्रिक अल्‍सर की भी परेशानी हो सकती है.

    आम न खाएं

    आम में शुगर पर्याप्‍त मात्रा में पाया जाता है. जिससे खाली पेट इसको खाने से आपका ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ सकता है. जिससे डायबिटीज का खतरा भी बढ़ जाता है. हेल्‍थ एक्‍सपर्ट्स के अनुसार, आम का सेवन भी सुबह खाली पेट करना नुकसानों से भरा हो सकता है.

    नाशपाती न खाएं

    अधिकतर लोग वजन कम करने के लिए प्रयास करते रहते हैं. ऐसे में वे लोग वजन कम करने वाले फलों का सेवन करते हैं और नाशपाती ऐसा ही एक फल है, जो कि फाइबर से भरपूर होने के साथ-साथ आपके वजन को भी कम करने में मददगार होता है. लेकिन इसको खाली पेट खाने से पेट की नाजुक झिल्लियां प्रभावित होती हैं जिससे आपका पाचन तंत्र खराब हो सकता है.

    लीची न खाएं

    अगर आप खाली पेट लीची का सेवन करते हैं तो यह आपकी मौत को बुलावा देने जैसा हो सकता है क्योंकि लीची में प्राकृतिक रूप से हाईपोग्लिसीन-ए और मिथेलीन सायक्‍लोप्रोपाइल ग्‍लायसीन नाम के तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर में फैटी ऐसिड मेटाबॉलिज्म बनने में अड़चन पैदा करते हैं. इससे ब्लड- शुगर लेवल कम हो जाता है और दिमाग संबंधी परेशानियां होने पर दौरे पड़ने लगते हैं. इसके साथ ही तेज बुखार, उल्टी, जी मिचलाना, बेहोशी जैसी समस्‍या भी होने लगती है.

    Chanakya Niti: चाणक्य नीति कहती है कि इन दो आदतों की वजह से व्यक्ति को नहीं मिलता है सम्मान

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0

    Close