Health Tips Why Eating Mangoes Is Not Healthy For You But Keep These Things In Mind While Eating

    0
    264

    [ad_1]

    आम एक मौसमी फल है आम में लगभग 150 कैलोरी पाई जाती हैं. इसमें मौजूद शर्करा की मात्रा के कारण इसे वजन बढ़ने का कारण माना जाता है. आइए हम आपको बताते हैं कि आम खाने के लिए अगर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो इससे आपका वजन नहीं बढ़ेगा.

    गर्मी का मौसम हो और व्यक्ति आम का सेवन न करे, ऐसा तो हो ही नहीं सकता. कुछ लोग तो सालभर गर्मी का इंतजार महज इसलिए करते हैं ताकि वह फलों के राजा आम का रसीला स्वाद चख सके. लेकिन आम खाते हुए एक डर आपके मन में जरूरत आता होगा. डर यह कि कहीं आम खाने से आपका वजन न बढ़ जाए. इस मीठे फल में ग्लूकोस की अच्छी मात्रा होती है, इसीलिए इसे खाने से स्वाभाविक रूप से आप ज्यादा कैलोरी का इनटेक करते हैं. लेकिन इसका मतलब ये भी नहीं है कि आप आम खाना ही छोड़ दें. आप ही नहीं बल्कि आम के शौकीन बहुत से लोगों के मन में यह दुविधा होती है कि क्या आम खाने से वाकई वजन बढ़ता है या नहीं. एक्सपर्ट्स का मानना है कि आम खाने के लिए अगर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए तो आम खाने से आपका वजन नहीं बढ़ेगा.

    बढ़ती है कैलोरी बहुत ज्यादा आम से खाने से
    अगर आप लिमिटेड क्वांटिटी में आम खाएं तो इससे आपको कोई नुकसान नहीं है. लेकिन जरूरत से ज्यादा आम खाने से आपका वजन भी बढ़ेगा और इससे आपकी सेहत को भी नुकसान पहुंच सकता है. एक मीडियम साइज के आम में लगभग 150 कैलोरी पाई जाती हैं. जरूरत से ज्यादा आम खाने से निश्चित रूप से आपका कैलोरी इनटेक बढ़ेगा. खाना खाने के बाद आम खाने से कैलोरी की ओवरऑल क्वांटिटी बढ़ जाती है. इससे बचने के लिए सुबह और शाम के नाश्ते आम का सेवन किया जाए तो कैलोरी इनटेक नियंत्रित रहेगा और वजन बढ़ने की समस्या भी नहीं होगी.

    विटामिन और मिनरल से भरपूर है आम

    आम में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं. इसमें विटामिन ए, आयरन, कॉपर और पोटैशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं. लेकिन आम एक संपूर्ण आहार नहीं है. इसमें शरीर को एनर्जी देना वाला ग्लूकोस अच्छी-खासी मात्रा में होता है, जिससे शरीर के एनर्जी लेवल को बढ़ाने में मदद मिलती है. यह आपको पूरे दिन जोशीला बनाए रखता है. इसमें विटामिन सी की क्वांटिटी अच्छी-खासी होती है, जो शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है. यही नहीं इसमें फाइबर भी खूब होता है जो शरीर की पाचन क्रिया को स्वस्थ बनाने में मदद करता है.

    अपच की समस्या

    अधिक मात्रा में आम का सेवन अपच की समस्या को जन्म देता है. खासतौर से, अगर आप कच्चे आमों का सेवन बड़ी संख्या में करेंगे तो इससे आपका पाचनतंत्र प्रभावित होगा और आपको अपच की परेशानी होगी.

    गठिया का रोग

    कुछ स्थिति में आम का सेवन न करने की सलाह दी जाती है. उदाहरण के तौर पर, गठिया, साइनसाइटिस आदि बीमारियों से पीडि़त लोगों को आम का सेवन कम से कम रखना चाहिए. आम के कच्चे, पके या जूस के सेवन से उनकी समस्या में वृद्धि हो सकती है.

    नहीं बढ़ेगा वजन ऐसे खाएंगे आम तो

    अगर आप लिमिटेड क्वांटिटी में आम खाएं तो इससे आपको कोई नुकसान नहीं है. लेकिन जरूरत से ज्यादा आम खाने से आपका वजन भी बढ़ेगा और इससे आपकी सेहत को भी नुकसान पहुंच सकता है. एक मीडियम साइज के आम में लगभग 150 कैलोरी पाई जाती हैं. जरूरत से ज्यादा आम खाने से निश्चित रूप से आपका कैलोरी इनटेक बढ़ेगा. खाना खाने के बाद आम खाने से कैलोरी की ओवरऑल क्वांटिटी बढ़ जाती है. इससे बचने के लिए सुबह और शाम के नाश्ते में आम का सेवन किया जाए तो कैलोरी इनटेक नियंत्रित रहेगा और वजन बढ़ने की समस्या भी नहीं होगी.

    अगर आपके पास मास्क नहीं है तो Coronavirus से ऐसे करें अपनी सुरक्षा

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0

    Close