Navratri 2020: Why Rock Salt Is Eaten During Fasting, Know The Important Thing Related To It

    0
    148

    [ad_1]

    नवरात्रि के पर्व पर मां दुर्गा के कई भक्तों ने उपवास रखा है. उपवास के दौरान कई चीजों का सेवन नहीं किया जाता है. इस दौरान साधारण नमक की बजाय भोजन में सेंधा नमक का इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन क्या आप जानते हैं कि सेंधा नमक को भोजन में इस्तेमाल करना साधारण नमक की तुलना में काफी अच्छा होता है और इससे स्वास्थ्य को भी काफी लाभ पहुंचता है. व्रत के दिनों के अलावा आम दिनों के दौरान भी आप सेंधा नमक का उपयोग कर सकते हैं.

    सेंधा नमक में नहीं होता है कोई कैमिकल

    नमक का शुद्ध रूप, सेंधा नमक को ही कहा जाता है. इसे ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि भोजन में इस्तेमाल करने से पहले इसे कैमिकल प्रोसेस से होकर गुजरना नहीं पड़ता है. यानी सेंधा नमक में कोई कैमिकल नहीं होता. जबकि साधारण नमक या टेबल सॉल्ट (काला नमक) को शुद्ध करने के लिए एंटी-कॉकिंग एजेंट और कई अन्य कैमिकल प्रोसेस से होकर गुजरना ही पड़ता है. साधारण नमक को शुद्ध करने के दौरान कई प्रकार के एडिटिव्स मिलाए जाते हैं जिस कारण इसका प्राकृतिक रूप पूरी तरह बदल जाता है और इसमे मौजूद कैल्शियम, पोटेशियम और मिनरल भी कम हो जाते हैं. इस स्थिति में सेंधा नमक साधारण नमक की तुलना में ज्यादा पोषक होता है.

    उपवास के दौरान क्यों खाया जाता है सेंधा नमक

    व्रत में भी सेंधा नमक का इस्तेमाल ही किया जाता है क्योंकि यह शुद्ध होता है. वहीं उपवास के समय शरीर को ज्यादा पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है ऐसे में शरीर की पोषकता की जरूरत को पूरा करने के लिए सेंधा नमक अहम रोल अदा करता है. इतना ही नहीं सेंधा नमक के इस्तेमाल से ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है. सेंधा नमक की तासीर ठंडी मानी जाती है. यह आंखों के लिए भी काफी अच्छा रहता है. दरअसल सेंधा नमक में आयोडीन की मात्रा कम होती है, इस कारण इसके सेवन करने से उच्च रक्तचाप और आंखों की सूजन की समस्या से निजात मिलती है.

    डाइजेशन को बनाता है मजबूत

    सेंधा नमक में आयरन, जिंक मैग्नीशियम समेत कई अन्य मिनरल तत्व पाए जाते हैं. इसमे सोडियम और पोटेशियम की भी प्रचुर मात्रा पाई जाती है इस कारण शरीर का इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बना रहता है. सेंधा नमक डाइजेशन भी सुधारता है और इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है. इसके साथ ही सेंधा नमक खाने से जरूरी पोषक तत्वों और मिनरल को अवशोषित करने में बॉडी की पूरी मदद करता है. सेंधा नमक के सेवन करने से ही व्रत के दौरान भी दिनभर एनर्जी बनी रहती है.

     वजन कंट्रोल करता है सेंधा नमक

    सेंधा नमक में एक और गुण होता है और वह यह है कि इसके सेवन करने से वजन कम होता है. दरअसल यह शरीर से फैट सेल्स को हटाने में मदद करता है और खाने की लालसा को भी नियंत्रत रखता है. शरीर के पीएच लेवल को भी सेंधा नमक मेंटेन रखता है. सेंधा नमक को अपनी डाइट में रेग्यूलर शामिल करने से शरीर में रक्त संचार भी सही रहता है और यह बॉडी से खराब टॉक्सिन को भी बाहर निकालने देता है. यह शरीर में सेरोटोनिन और मेलाटोनिन हार्मोंस का बैलेंस बनाए रखने में भी मदद करता है, जो तनाव और स्ट्रेस को भी दूर करता है.

    ये भी पढ़ें

    सीरम इंस्टीट्यूट को मिली इंट्रानैसल कोरोना वैक्सीन के ट्रायल की मंजूरी, नाक के ज़रिए दिया जाएगा ये टीका

    शारदीय नवरात्रि के दौरान रखें इम्यूनिटी का ध्यान, इन चीजों से मिलेगा फायदा

    [ad_2]

    Source link

    Share and Enjoy !

    0Shares
    0 0